अपनी इंजिनीर की नौकरी छोड़ आज कमा रहा ८ लाख महीना। Motivation Story Of Farmer Who is Earn Up To 8 lakh

Motivation Story Of Farmer Who is Earn Up To 8 lakh
motivation-story-of-farmer who is earn up 8 lakh

Motivation Story Of Farmer Who is Earn Up To 8 lakh

नमस्कार दोस्तों आज के इस पोस्ट में बहुत ही मोटिवेशनल स्टोरी लेकर आए हैं जो आपको मोटिवेट तो करेगी उसके साथ आपको बिजनेस करने के लिए उत्साहित भी करेगी आज हम एक ऐसे इंसान के के बारे में जानने वाले हैं वाले जिसने अपनी इंजीनियर की नौकरी छोड़ कर पशुपालन का बिजनेस शुरू किया और आज वह इंसान महीना सबसे ज्यादा कमाता है इस कहानी का एक ही मकसद है आपको मोटिवेट कर सकूं. हर इंसान में कुछ करने की इच्छा होती है. मगर वह डरता है, उसे लगता है जो कुछ और करने वाला है इसमें अगर और सफल हो गया तो उसकी लाइफ बर्बाद हो जाए. इसी कारण बहुत से लोग जिंदगी भर नौकरी करते रहते हैं. उन लोगों के लिए इस पोस्ट में मैं आपको मोटिवेट जरूर करूंगा. आप इंजीनियर की कहानी सुनकर जरूरी आप अपना खुद का बिजनेस शुरू करें. आज मैं जो कहानी सुनाने वाला हूं कहानी है गुजरात के रहने वाले हरेश पटेल. चलो शुरू करते हैं.

अपनी इंजिनीर की नौकरी छोड़ आज कमा रहा ८ लाख महीना। Motivation Story Of Farmer Who is Earn Up To 8 lakh 1

गुजरात के रहने वाले हरीश पटेल जी ने इंजीनियर की नौकरी करते रहते हैं .मगर उनका मन उसने नहीं रहता था .उनकी इच्छा थी अपना खुद का बिजनेस स्टार्ट करें . उनके भाई अपने गांव में ही उनके लिए बिजनेस प्लान तैयार कर रहे थे. तो उन्होंने अपने भाई के लिए गाय का व्यवसाय चुना. हरेश पटेल अपने गांव में इस पशुपालन व्यवसाय को पिछले डेढ़ साल से कर रहे हैं. आज उनके पास 44 गाय हैं. गाय के बल पर अपना खुद का बिजनेस बिजनेस करके महीना 8 लाख रुपया कमाई कर रहे हैं. कैसे कर रहे हैं इसके बारे में जानते हैं.

गुजरात की पाटन तहसील में बरवाड़ा गांव में रहने वाले पटेल अपना पशुपालन का व्यवसाय कर रहे हैं. इसके पहले वह एक कंपनी में इंजीनियर का काम कर रहे थे. इंजीनियर में फेब्रिकेशन का काम करते थे. इस काम में उनका मन नहीं लगता था. इसलिए उन्होंने अपने गांव में पशुपालन व्यवसाय करके ₹800000 कमाई कर रहे हैं. व्यवसाय के साथ-साथ वह अपना ऑर्गेनिक फार्मिंग का भी काम कर रहे हैं. उसी के साथ साथ अपना खुद का गोबर से बने धूपबत्ती का बनाने का व्यवसाय कर रहे हैं.

अपनी खेती का काम करते-करते उन्होंने हर्बल फार्मिंग से खेती के खर्च को भी बचाया. उन्होंने खेती के साथ-साथ अपने मुख्य व्यवसाय पर ध्यान देकर. गाय के गोबर से धूपबत्ती बनाने का काम शुरू किया . और उसके साथ साथ उनके पास जो गाय है , वह गाय गिर नस्ल की गाय है . वह गाय के दूध से बने डालडा मार्केट में बेचने का काम करते हैं . गिर नस्ल की गाय का डालडा 17100 किलो के हिसाब से जाता है. इस कारण उन्हें अच्छा मुनाफा होता है . और वह अपनी जिंदगी अच्छे से गुजार रहे हैं .

यानी कि उन्होंने अपने साइड बिजनेस स्टार्ट किया . यानी कि उन्होंने अपने तकनीक से गाय के व्यवसाय से पूरक व्यवसाय को शुरू किया . उन्होंने गाय का ही नहीं किया उसी के साथ गोबर से बनी धूपबत्ती का व्यवसाय किया . गाय के दूध से बने घी का इस्तेमाल किया . और गाय के गोमूत्र से और गोबर से अपने खेती को ऑर्गेनिक बनाया . और अपनी इनकम को दुगना बना दिया .

परेश पटेल की कहानी है हमें यह सीख मिलती है जिंदगी में बदलाव देना चाहिए अगर हो जिंदगी भर अगर इंजीनियर का काम करते रहते हैं उनकी सैलरी नहीं होती जो आज वह बिजनेस से प्राप्त कर रहे हैं. नौकरी में उन्हें 50 से ₹100000 की सैलरी हो जाती है . मगर आज वह अपने बिजनेस से ₹800000 कमाई कर रहे हैं. अगर उन्होंने जो बदलाव नहीं किया होता आज किस मुकाम नहीं पहुंचते . जिंदगी में बदलाव लेना जरूरी है . जो लोग शुरुआत करने के लिए डरते हैं . उनके लिए यह कहानी मोटिवेट साबित हो .

आपको यह पोस्ट अच्छी लगी होगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें और हमारी वेबसाइट पेज को सब्सक्राइब जरूर करें. सब्सक्राइब करने से हमारे नए पोस्ट अब तक पहुंचेगी और आप मुझे पढ़कर अपना जीवन सफल बना सकते हो .आज के लिए इतना ही जय हिंद जय भारत .

44 / 100

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *