शुरू करे low investment में कुल्हड़ बनाने का business how to make kulhad making business

how to make kulhad making business
how to make kulhad making business
0 0
Read Time:8 Minute, 45 Second

how to make kulhad making business

Contents hide
1 how to make kulhad making business
4 कुल्हड़ बिजनेस की बाजार में मांग marketing of kullad business
4.1 आप सभी ने देखा होगा रेल्व स्टेशन , पार्क में , बाजार और बगीचे जहां लोग crowd करते है । इन इलाके में लोग चाय , लस्सी ऑर बहुत से तरल पदार्थ पिना पसंद करते हैं । इसके लिए बहुत से लोग प्लास्टिक और स्टील के बर्तनों का इस्तमाल करते है । पर प्लास्टिक के बर्तनों को नष्ट कारण बहुत कठिन होता है । और इसके दुष्परिणाम भी देखने को मिलते है । इनसे पर्यावरण के दुषपरिणामों का भी सामना करना पड़ता है ।इं चीजों जल्दी नष्ट नहीं होती इस कारण इं पदार्थ का यूज करना बहुत धोकादयक हो सकत है । इस कारण याइज एरिए में आपको कुल्हड़ के बर्तनों को यूज करते है तो इससे पर्यावरण भी बचे रहता है । और यह जल्द नष्ट भी हो जाते है । इस कारण इससे बिजनेस बहुत अच्छा मुनाफा हो सकता है ।और लोगो को इसकी कीमत समज आने लगी है इस कारण इसकी मार्केट अच्छी हो सकती है ।
5 कुल्हड़ व्यवसाय को लगानेवाल कच्चा माल raw material of kulhad Business
5.1 कुल्हड़ बिजनेस के लिए मुख्य जो कच्चा माल लागत है वह है मिट्टी । वह अगर अच्छे क्वालिटी कि होगी तो इससे बनाने वाले प्रोडक्ट भी अच्छे क्वालिटी के बन सकते है । इस कारण आपको अपने नजिकी तालाब और नदी से यह मिट्टी मिल जाती है । उसके साथ आपको इस बनाने के लिए मशीन भी अवेलेबल है । आपको अपने प्रोडक्ट्स कि क्वालिटी बड़ानी है तो आपको आपको मशीन से प्रोडक्ट बनाने होगे । उसके साथ आपको साच की भी जरूरत होगी आपको साचा खरीद कर विविध आकर और डिजाइन के बर्तन बना सकते है ।उसके साथ आपको भट्टी की जरूरत पड़ेगी । ताकि आप जो भी कुल्हड़ बनाए यूज भूनने के लिए भट्टी की जरूरत है ।इसके साथ आपको पाउडर और तेल की जरूरत पड़ेगी । इन चीजों की जरूरत होती है । कुल्हड़ बनाने के बिजनेस के लिए ।यह सभी चीजे आपको मार्केट में मिल जाती है । या आप इंटरनेट का सहारा ले सकत है।
8 कुल्हड़ बनाने की प्रक्रिया Kulhad making process
8.1 कुल्हड़ बनाने की प्रक्रिया बहुत आसान है इसके लिए आपको सबसे पहले मिट्टी जो आप तालाब और नदी से लाये है उसे अच्छे से मिक्सर में बारीक़ कर लेना है। उसके लिए आपको मिक्सर ग्राइंडर लेना होगा। उसमे मिट्टी को दाल कर उसे बारीक़ करना होगा। उसके बाद आपको उस मिटटी में पानी मिक्स करके उसके अच्छे से गोले बनाने होंगे। वह उतने गोले होने चाहिए जितने आप सांचे में दाल सके। और उस सच्चे को मशीन में फिट करना होगा। इसको बनाने के लिए आपको मशीन का यूज़ करना होगा। उसके बाद उसमे सांचे के आकर तैयार करने होंगे। उन सभी बने कुल्हड़ को एक भट्टी में दाल कर उसे भुनना होगा। उसके बाद वह पक जाने के बाद उसे पैकिंग करके एक बॉक्स में बेचने के लिए रखने होंगे। इसे आप मार्केटिंग करके बाजार में ला सकते है।

दुनिया टेक्नोलॉजी से पहले और लोगो का विकास होने से पहले लोग अपने खाने पिने की चीजों को मिट्टी की बर्तन में इस्तेमाल करते थे। यानि की लोगो की घरों की सजावटी जैसे काच , प्लास्टिक और लकड़ी की चीजों से की जाती है। वैसे पहेले के जमाने मे लोग मिट्टी की बर्तन का इस्तमाल करते थे । पर उन बर्तनों की जगह आज प्लास्टिक और स्टील के बर्तनों ले ली है । इस कारण आज लोगों को उसके दुष्परिणाम दिखाई दे रहे है । उसमें प्लास्टिक को नष्ट करना । यह एक बहुत बड़ी समस्या सरकार के सामने आ पोहची है । और प्लास्टिक और स्टील के बर्तनों में खाने और पीने से बहुत बड़ी हेल्थ प्रॉब्लम खड़ी हो जाती है ।



इस कारण आज के टाइम अगर हम मिट्टी के बर्तन का इस्तमाल करते है तो मिट्टी के बर्तनों में खाने और पीने से उसकी रुचि और बढ़ जाती है । इस कारण लोग मिट्टी के बर्तनों को पसंद करते है । आप अगर इस बिजनेस को शुरू करते हो तो आपको बहुत अच्छा पैसा कमाने का अवसर प्रदान हो सकत है । तो चलिए जानते है कुल्हड़ बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू कर सकते है । इसकी पूरी जानकारी ।

सरकार की तरफ से कुल्हड़ बनाने के व्यवसाय को हेल्प

आज के टाइम में सरकार की तरफ से बहुत अच्छा सपोर्ट किया जाता है । इसके लिए सरकार की ओर से लोन भी प्रोवाइड किया जाता है । और इसके लिए सरकार मशीनरी भी अरेंज करा देती है । जो आपको प्रोडक्ट की क्वालिटी को और भी बेहतर बना देता है । और लोन से प्रोडक्ट और बिजनेस भी बड़ा सकते है । कुम्भार उद्योग को इलेक्ट्रिकल चरखा भी दिया जाता है।

कुल्हड़ उद्योग के आकार और उसके फायदे

कुल्हड़ में ज्यादातर लोग चाय , दूध , लस्सी जैसे पेय को पीने के लिए इस्तमाल करते है ।कुल्हड़ में दूध पीने के फायदे अनेक होते है । उसके साथ इसमें अगर लस्सी का सेवन किया जाए तो उसका स्वाद अलग ही हो जाता है । और चीज कोंसी भी ही मिट्टी के बर्तन में इसका सेवन करने से उस पदार्थ की स्वाद तो बड़ता है पर उसकी गुणधर्म नष्ट नहीं होते इस कारण इसमें पीने कि रुचि लोगों की बड़ती का रही है ।

उसकी आकार कि बात करे तो बाजार में विविध प्रकार के और अकर के साचे मिल जाते है । उसमें आप विविध डिजाइन करके बना कर बाजार में बेच सकते हैं।

कुल्हड़ बिजनेस की बाजार में मांग marketing of kullad business

आप सभी ने देखा होगा रेल्व स्टेशन , पार्क में , बाजार और बगीचे जहां लोग crowd करते है । इन इलाके में लोग चाय , लस्सी ऑर बहुत से तरल पदार्थ पिना पसंद करते हैं । इसके लिए बहुत से लोग प्लास्टिक और स्टील के बर्तनों का इस्तमाल करते है । पर प्लास्टिक के बर्तनों को नष्ट कारण बहुत कठिन होता है । और इसके दुष्परिणाम भी देखने को मिलते है । इनसे पर्यावरण के दुषपरिणामों का भी सामना करना पड़ता है ।इं चीजों जल्दी नष्ट नहीं होती इस कारण इं पदार्थ का यूज करना बहुत धोकादयक हो सकत है । इस कारण याइज एरिए में आपको कुल्हड़ के बर्तनों को यूज करते है तो इससे पर्यावरण भी बचे रहता है । और यह जल्द नष्ट भी हो जाते है । इस कारण इससे बिजनेस बहुत अच्छा मुनाफा हो सकता है ।और लोगो को इसकी कीमत समज आने लगी है इस कारण इसकी मार्केट अच्छी हो सकती है ।

कुल्हड़ व्यवसाय को लगानेवाल कच्चा माल raw material of kulhad Business

कुल्हड़ बिजनेस के लिए मुख्य जो कच्चा माल लागत है वह है मिट्टी । वह अगर अच्छे क्वालिटी कि होगी तो इससे बनाने वाले प्रोडक्ट भी अच्छे क्वालिटी के बन सकते है । इस कारण आपको अपने नजिकी तालाब और नदी से यह मिट्टी मिल जाती है । उसके साथ आपको इस बनाने के लिए मशीन भी अवेलेबल है । आपको अपने प्रोडक्ट्स कि क्वालिटी बड़ानी है तो आपको आपको मशीन से प्रोडक्ट बनाने होगे । उसके साथ आपको साच की भी जरूरत होगी आपको साचा खरीद कर विविध आकर और डिजाइन के बर्तन बना सकते है ।उसके साथ आपको भट्टी की जरूरत पड़ेगी । ताकि आप जो भी कुल्हड़ बनाए यूज भूनने के लिए भट्टी की जरूरत है ।इसके साथ आपको पाउडर और तेल की जरूरत पड़ेगी । इन चीजों की जरूरत होती है । कुल्हड़ बनाने के बिजनेस के लिए ।यह सभी चीजे आपको मार्केट में मिल जाती है । या आप इंटरनेट का सहारा ले सकत है।




कुल्हड़ पैकिंग मटेरियल kulhad packing

कुल्हड़ को बहार बाजार में बेचने के लिए। उसे अच्छे से पैकिंग करना जरुरी होता है। बहार बाजार में या ऑनलाइन भी बेचने के लिए। अच्छे क्वॉलिटी का मटेरियल यूज़ करना पड़ता है। क्युकी कुल्हड़ को अच्छे से पैक नहीं किया तो इसके जरिये आप किये हुए उत्पादन को नष्ट हो सकता है। क्युकी मिट्टी के बर्तन को अच्छा पैक करना पड़ता है। एक जगह से दूसरे जगह पर लेके जाने के लिए इसे अच्छे से पैक करना होगा। इस कारन पैकिंग मटेरियल बहुत आवश्यक है। यह आपको मार्किट में बड़े आसानीसे मिल जाता है।

कुल्हड़ बनाने के बिसनेस के लिए लागत investment or kulhad making business

कुल्हड़ बनाने बिजनेस के लिए आपको 25 हजार से लागत लगती है ।इस बिजनेस के लिए मशीन के साथ आपको राए मटेरियल और पैकिंग मटेरियल जरूरत होगी । इन सभी को आप मार्केट से बड़े आसानी से खरीद सकते है । इसके लिए आपको 25 हजार के आसपास जरूरत पड़ेगी । इसमें आप मशीनरी और रॉ मटेरियल ख़रीद सकते है। आपको इसके लिए 60 ML से 400 ML तक प्रोडक्ट बना सकते है। इसे बनाने के लिए साचे की जरुरत होगी। उसका उपयोग करके आप इस बिज़नेस को शुरू कर सकते है।

कुल्हड़ बनाने की प्रक्रिया Kulhad making process

कुल्हड़ बनाने की प्रक्रिया बहुत आसान है इसके लिए आपको सबसे पहले मिट्टी जो आप तालाब और नदी से लाये है उसे अच्छे से मिक्सर में बारीक़ कर लेना है। उसके लिए आपको मिक्सर ग्राइंडर लेना होगा। उसमे मिट्टी को दाल कर उसे बारीक़ करना होगा। उसके बाद आपको उस मिटटी में पानी मिक्स करके उसके अच्छे से गोले बनाने होंगे। वह उतने गोले होने चाहिए जितने आप सांचे में दाल सके। और उस सच्चे को मशीन में फिट करना होगा। इसको बनाने के लिए आपको मशीन का यूज़ करना होगा। उसके बाद उसमे सांचे के आकर तैयार करने होंगे। उन सभी बने कुल्हड़ को एक भट्टी में दाल कर उसे भुनना होगा। उसके बाद वह पक जाने के बाद उसे पैकिंग करके एक बॉक्स में बेचने के लिए रखने होंगे। इसे आप मार्केटिंग करके बाजार में ला सकते है।

About Post Author

businessfacts

हेलो दोस्तों आप सभी का स्वागत है। मेरा नाम संजय है। मै यहाँ आपके लिए विविध प्रकारके बिज़नेस आइडियाज शेयर करता हु। हमारे इस वेबसाइट पर। आप सभी को जीवन में अपना बिज़नेस स्टार्ट करना है। तो मेरे इस वेबसाइट के जरिये आप कोई भी बिज़नेस स्टॉर्ट करने से पहले इस वेबसाइट पर आपको बहुत से यैसे बिज़नेस आइडियाज मिलेंगे जो आप पढ़कर एक बार आईडिया ले सकते है की आपका बिज़नेस में कोनसा तैयारी करनी होगी। आपमें से बहुत से लोग है जो कोइना कोई बिज़नेस स्टार्ट करने की सोच रहे होंगे। आपको इस वेबसाइट की मदत से बिज़नेस का आइडियाज कैसे होना चाहिए। कितनी लगत हो सकती है। कोणकोणसे मशीन , अवाजारो की जरुरत होगी। इसकी जानकारी आपको इस वेबसाइट के जरिये मिलेंगे। आपको घर से शुरू होने वाले बिज़नेस कोनसे है। उसे कैसे स्टार्ट करना है। कितनी लगत लग सकती है। कैसे स्टार्ट कर सकते है। और उसी के साथ आपको इस वेबसाइट पर यैसे भी बिज़नेस मिलेंगे जो आपको ज्यादा इन्वेस्टमेंट में शुरू कर सकते है। उसकी मार्केटिंग कैसी करने होगी। इसमें कितना इन्वेस्टमेंट लगेगा। कितने वर्कर की आवशक्यता होगी। कितना प्रॉफिट मिलेगा इसकी बहुत सी जानकारी इस वेबसाइट पर आपको मिलेगी।
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
68 / 100
About businessfacts 81 Articles
हेलो दोस्तों आप सभी का स्वागत है। मेरा नाम संजय है। मै यहाँ आपके लिए विविध प्रकारके बिज़नेस आइडियाज शेयर करता हु। हमारे इस वेबसाइट पर। आप सभी को जीवन में अपना बिज़नेस स्टार्ट करना है। तो मेरे इस वेबसाइट के जरिये आप कोई भी बिज़नेस स्टॉर्ट करने से पहले इस वेबसाइट पर आपको बहुत से यैसे बिज़नेस आइडियाज मिलेंगे जो आप पढ़कर एक बार आईडिया ले सकते है की आपका बिज़नेस में कोनसा तैयारी करनी होगी। आपमें से बहुत से लोग है जो कोइना कोई बिज़नेस स्टार्ट करने की सोच रहे होंगे। आपको इस वेबसाइट की मदत से बिज़नेस का आइडियाज कैसे होना चाहिए। कितनी लगत हो सकती है। कोणकोणसे मशीन , अवाजारो की जरुरत होगी। इसकी जानकारी आपको इस वेबसाइट के जरिये मिलेंगे। आपको घर से शुरू होने वाले बिज़नेस कोनसे है। उसे कैसे स्टार्ट करना है। कितनी लगत लग सकती है। कैसे स्टार्ट कर सकते है। और उसी के साथ आपको इस वेबसाइट पर यैसे भी बिज़नेस मिलेंगे जो आपको ज्यादा इन्वेस्टमेंट में शुरू कर सकते है। उसकी मार्केटिंग कैसी करने होगी। इसमें कितना इन्वेस्टमेंट लगेगा। कितने वर्कर की आवशक्यता होगी। कितना प्रॉफिट मिलेगा इसकी बहुत सी जानकारी इस वेबसाइट पर आपको मिलेगी।

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

5 thoughts on “शुरू करे low investment में कुल्हड़ बनाने का business how to make kulhad making business

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*